यहां कृषि से जुड़ी कहावतों का अद्भुत संग्रह है।

proverbs-associated-with-agriculture
Agricultural Proverbs

आप किसी खेत को अपने दिमाग में पलट कर हल नहीं चला सकते।


अंडों से निकलने से पहले अपनी मुर्गियों की गिनती न करें।


बिना हल वाला किसान बिना पहियों वाली कार के समान है।


कल करे सो आज, आज करें सो अब।


अपने सभी अंडे एक टोकरी में न रखें।


भौंकने वाला कुत्ता शायद ही कभी काटता हो।


जो बोओगे वही काटोगे।


जुता हुआ खेत आकाश का दर्पण है।


सबसे अच्छी खाद किसान की छाया है।


जब मुर्गा बहुत जल्दी बांग देता है, तो यह बारिश का संकेत है।


प्यास लगने से पहले अपना कुआँ खोदो।


एक किसान की किस्मत एक शहरी आदमी से बेहतर होती है।


अच्छी फसल अच्छे बीज, अच्छी मिट्टी और अच्छी खेती का परिणाम है।


सेम को कीचड़ में और चावल को धूल में रोपें।


किसान देश का अन्नदाता है।


यदि आपका कोई प्रश्न, विचार या सुझाव है तो कृपया नीचे टिप्पणी करें। आप फेसबुक, इंस्टाग्राम, कू और व्हाट्सएप मैसेंजर पर भी एग्रीकल्चर रिव्यू से जुड़ सकते हैं।

समान पोस्ट

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *